भ्रष्टाचार के खिलाफ सख़्त और समर्पित पुलिस अधिकारी हैंआईपीएस अलका मीणा

भ्रष्टाचार के खिलाफ सख़्त और समर्पित पुलिस  अधिकारी हैंआईपीएस अलका मीणा

अपराध, भ्रष्टाचार और कोरोना के खिलाफ जारी इस लडाई में महिला पुलिसकर्मी खुद को खतरे  में डालकर पूरी मुस्तैदी के साथ ड्यूटी कर रही है । दिन-रात और धूप-छााँव की परवाह ना करते हुए  अपना कर्तव्य पूरी निष्ठां से निभा रही है । ऐसी ही  एक आईपीएस अफसरहै एसएसपी  अलका मीणा जो इन सामाजिक  बुराइयों कोहारने के लिए दिन -रात तक की परवाह नहीं करती। राजस्थान से ताल्लुक रखने  वाली एसएसपी अलका मीणा 2010 पंजाब  कैडर की आईपीएस अधिकारी और पंजाब की पहली महिला आईपीएस ऑफीसरहैं  इस समय बरनाला में नियुक्त । अफसर अलका मीणा जालींधर एसएसपी (विजलेंस) का चार्ज संभल चुकी है । इससे पहले वे  पुलिस कमिश्नरेट  में एडीसीपी (मुख्यालय) थी। आईपीएस अलका मीणा किडनी कांड की निष्पक्ष जाँच के लिए  बनाई गई एसआईटी
की मेंबर रही । एसएसपी अलका मीणा भष्राचार के खिलाफ सख्त एक्शन लेना अपनी पहली  बडी जजम्मेदारी मानती हैं और लोगों से bhrstchar के खिलाफ चुप ना रहने  की अपील करती है । आईपीएस अलका मीणा सामाजिक समस्याओीं के मूल कारणों की समीक्षा करती है औऱ सिविल प्रशासन के साथ मिलकर  इसे दूर करने का प्रयास करती है । अपराधियों के प्रति शख्त मिज़ाज़ वाली एसएसपी अलका मीणा का स्वाभाव  बहुत विनम्र है । ऑफीसर अलका मीणा अभी हाल ही में  में रोड सुरक्षा  नियमो को अनदेखा  करने वालों को सबक सिखाते हुए चलान की जगह  फूल देती नज़र आई थी। एसएसपी अलका मीणा आमजन के संपर्क में रहती है और लगातार लोगों के लिए  उपलब्ध रहती है जिससे  वे लोगों की वेहद चाहती बन चुकी है । IAS कुमार अमित  आईपीएस अलका मीणा के पति है । आईपीएस अलका मीणा एक 5 वर्षीय बेटे की मााँ भी है । कई आपराधिक मामलो का खुलासा  कर चुकी एसएसपी अलका मीणा पूरे समर्पण और निष्ठा की भावना के साथ अपना कर्तव्य  निभाती है एसएसपी अलका मीणा जरूरतमांडो  की मदद और महिला सुरक्षा के लिए हमेशा आगे रहती है । वे
मानती हैं की समाज में भ्रष्टाचार के खात्मे और त्वरित  न्याय के लिए  महिलाओीं को अधिक से अधिक  पुलिस फाॅर्स  ज्वाइन करनी चाहिए।