त्वरित न्याय , अपराध पर रोक लगाना, ट्रैफिक व्यवस्था को सही रखना ही मकसद है गंगा राम पुनिया का

त्वरित न्याय , अपराध पर रोक लगाना, ट्रैफिक व्यवस्था को सही रखना ही मकसद है गंगा राम पुनिया का

हरिवंश राय बच्चन जी कि कविता, लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती, को सच कर दिखाया है करनाल के एसपी गंगा राम पुनिया ने। एक किसान परिवार में पले बढ़े गंगा राम पुनिया के जीवन में बहुत से कष्ट और परेशानियां आयी, लेकिन ना उनके कदम डगमगाए और ना ही उनका हौंसला। परेशानियों से तप कर एक मजबूत व ईमानदार अफसर बनने वाले गंगा राम पुनिया एक ऐसे शख्स हैं जिनकी मिसाल दी जाती है। 
आईपीएस गंगा राम पुनिया परबतसर तहसील के लिखियास गांव के रहने वाले हैं, उनकी प्रारंभिक शिक्षा गांव में ही हुई। लेकिन 12वीं की पढ़ाई के लिए वह 10 किलोमीटर दूर चल कर करकेड़ी गांव के राजकीय विद्यालय से पढ़ाई कर परीक्षा पास की थी। इसके साथ में वह परिवार की सहायता के लिए खेती बाड़ी में भी हाथ बटाते थे। कक्षा 12 के बाद उन्होंने घर की आर्थिक स्थिति को देखते हुए नौकरी ढूंढना शुरू कर दिया और अजमेर के पोस्ट ऑफिस में उनको लिपिक की नौकरी मिल भी गई, इसके साथ उन्होंने स्वयंपाठी विद्यार्थी ग्रेजुएशन पूरी की।


पुनिया को सिविल सर्विसेस की तैयारी करने के लिए उनको उनके गुरु ज्वाला प्रसाद खंगारोत ने प्रेरणा दी थी। उन्होंने बिना किसी कोचिंग और मदद के सेल्फ स्टडी कर सिविल सर्विस की तैयारी की। पहले प्रयास में वह परीक्षा पास कर वह इंटरव्यू तक पहुंचे लेकिन उनको कामयाबी नहीं मिल पाई। लेकिन दूसरे प्रयास में उन्होंने सफ़लता हांसिल कर अपनी मां सोनी देवी और पिता भंवरलाल का सपना सच कर दिखाया।  2013 बैच के आईपीएस गंगा राम पुनिया को ट्रेनिंग के बाद सबसे बड़े जिले भिवानी का पुलिस कप्तान बना दिया गया। पहली बार किसी जिले का एसपी बनने के बाद एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने अपने अनुभवों व अपनी मंशा के बारे में बातचीत की। उन्होंने कहा कि त्वरित न्याय दिलवाना, अपराध पर रोक लगाना, ट्रैफिक व्यवस्था को सही रखना ही उनका मकसद है। पुनिया ने बताया कि पुलिस पहले से ही महिलाओं और बच्चों के खिलाफ होने वाले अपराधों को लेकर संजीदा है। उन्होंने कहा कि वह कोशिश करेंगे कि जल्द से जल्द मामले दर्ज हों और जनता को जल्दी न्याय मिले। उन्होंने बताया कि जनता का कानून के प्रति विश्वास बरकरार रहे व लोगों को इंसाफ मिले, उनका यही प्रयास रहेगा। इसके साथ उन्होंने कहा कि लोगों को साथ लेकर वे मुहिम भी चलाएंगे, दुर्घटनाएं व अपराध को रोकने के लिए लोगों को खास तौर पर टीनएजर्स को जागृत करने की बात कही। एसपी गंगा राम पुनिया इससे पहले फतेहाबाद के एएसपी व भिवानी में बतौर एसपी काम कर चुके हैं, और वर्तमान में करनाल जिले के एसपी पद को संभाले हुए हैं।