कार्य कुशलता तथा मजबूत रणनीति के ज्ञाता हैं नरेन्द्र सिंह तोमर

कार्य कुशलता तथा मजबूत रणनीति के ज्ञाता हैं नरेन्द्र सिंह तोमर

राजनीति के शिखर पर पहुंचने वाले कुछ लोग जमीनी स्तर से कार्य करते हुए आगे बढ़ते हैं। इसी क्रम में एक नाम श्री नरेन्द्र सिंह तोमर का भी है। 12 जून 1957 को मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के ग्राम ओरेठी में नरेन्द्र सिंह तोमर का जन्म हुआ। बचपन से ही राजनीति को पसंद करने वाले नरेंद्र सिंह तोमर ने स्नातक में ही राजनीति में प्रवेश कर लिया ओर इस दौरान वे कॉलेज में छात्र संघ अध्यक्ष के पद पर आसीन रहे। इसके उपरांत ग्वालियर नगर निगम में इन्होने पार्षद का चुनाव लड़ा तथा जीत हासिल की। जिसके बाद ये नगर निगम के पार्षद निर्वाचित हुए। इसके बाद नरेन्द्र सिंह तोमर राजनीति में हमेशा के लिए सक्रीय हो गए। 1977 में नरेन्द्र सिंह तोमर को भारतीय जनता युवा मोर्चा का मंडल अध्यक्ष बनाया गया। 

नरेन्द्र सिंह तोमर संगठनात्मक क्षमता तथा प्रशासन पर मजबूत पकड़ वाले नेता के रूप में देखे जाते हैं। ये एक कुशल नेतृत्व वाले तथा अच्छे रणनीतिकार माने जाते हैं। "बात कम तथा कार्य अधिक" के सूत्र को ये अपने राजनीतिक जीवन में सदैव अपनाते आये हैं। इसी कारण इनके संसदीय क्षेत्र के लोग इन्हें अत्यधिक सम्मान देते हैं। मुरैना संसदीय क्षेत्र से 2009 में नरेन्द्र सिंह तोमर लोकसभा सदस्य के तौर पर निर्वाचित हुए थे। इसके पहले वे राज्यसभा सदस्य के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहें थे। इस बार नरेन्द्र सिंह तोमर ग्वालियर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद निर्वाचित हुए हैं। 

भारतीय जनता युवा मोर्चा के विभिन्न पदों पर नरेन्द्र सिंह तोमर ने अपनी सेवाएं प्रदान की हैं। इनकी कार्यशैली तथा लगन को देखते हुए 1996 में इन्हें युवा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष भी बनाया गया। 1998 में नरेन्द्र सिंह तोमर पहली बार ग्वालियर से विधायक निर्वाचित हुए। इसके बाद उन्होंने इसी क्षेत्र से 2003 में दूसरी बार चुनाव लड़ा तथा सफलता पाई। इस समय वे सुश्री उमा भारती, बाबूलाल गौर और शिवराज सिंह चौहान के मंत्री मंडल के विभिन्न पदों पर भी आसीन रहे। 2008 में तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष, सोमनाथ चटर्जी ने इन्हें उत्कृष्ट मंत्री के रूप में सम्मानित किया। 16 दिसम्बर 2012 को नरेन्द्र सिंह तोमर को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष घोषित किया गया। 2014 में इन्होने ग्वालियर से लोकसभा चुनाव लड़ा तथा विजय हुए। 

नरेन्द्र सिंह तोमर सामजिक, आध्यात्मिक तथा सांस्कृतिक कार्यों के आयोजन में काफी रूचि रखते हैं। वे ग्वालियर की खेल संस्था के अध्यक्ष भी रहें हैं। इसके अलावा गरीबो की मदद, रक्तदान तथा वृक्षारोपण जैसे सामाजिक कार्यों में भी नरेन्द्र सिंह तोमर काफी रूचि लेते हैं। कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए नरेन्द्र सिंह तोमर कई बार काव्य गोष्ठियों का आयोजन भी कराते हैं।